Essay on Atal Bihari Vajpayee In Hindi - अटल बिहारी वाजपेयी पर निबंध

नमस्कार आज हम आपके साथ Essay on atal bihari vajpayee in hindi  शेयर करने वाले है आप हमारे आर्टिकल को एन्ड तक जरूर पड़े


Atal bihari vajpayee jivani in hindi


आज हम बात करने वाले है अटल बिहारी वाजपयी जी के बारे में जिनका जनम 25 दिसंबर 1924 को मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हुआ था | 


इनके पिता जी का नाम कृष्णा बिहारी वाजपेयी और माता जी का नाम कृष्णा देवी था  इनके बहनो के नाम उर्मिला मिश्रा, कमला देवी, विमला मिश्रा और इनके भाई के नाम सुदा बिहारी वाजपेयी, अवध बिहारी वाजपेयी, प्रेम बिहारी वाजपेयी


अटल बिहारी वाजपयी भारत के तीन बार के प्रधानमंत्री थे वे पहले 16 मई से 1 जून 1996 तक, फिर 1998 मे और  उसके बाद 19 मार्च 1999 से 22 मई 2004 प्रधानमंत्री रहे

Essay on Atal Bihari Vajpayee In Hindi


इन्होने अविवाहित रहने का संकल्प लिया था यही कारन है की  इन्हे भीष्मपितामह भी कहा जाता है। उन्होंने 24 दलों के गठबंधन से सरकार बनाई थी जिसमें 81 मंत्री थे


अटल बिहारी वाजपयी जी के पिता  कृष्ण बिहारी वाजपेयी मध्य प्रदेश  में अध्यापक थे। अटल जी ने अपनी  बीए की शिक्षा ग्वालियर के विक्टोरिया कालेज से की थी | छात्र जीवन से वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक बने  और उसी दिन से वो राष्ट्रीय स्तर की वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में भाग लेते थे 


Essay on Atal Bihari Vajpayee In Hindi

                                                                                                  Short Essay on Atal Bihari Vajpayee In Hindi
                                          

1952 में अटल जी ने  पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ा, पर उनको  सफलता नहीं मिली लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और  बलरामपुर से के प्रत्याशी के रूप में विजयी होकर लोकसभा में पहुँचे थे 
इन्होंने जनता पार्टी  को छोड़ दिया था और भारतीय जनता पार्टी की स्थापना में मदद की।

वाजपेयी जी ने अपने पूरे जीवन अविवाहित रहे। उन्होंने अपने दोस्त की बेटी नमिता भट्टाचार्य को अपनी बेटी  के रूप में स्वीकार किया था  अटल जी के साथ नमिता और उनके पति रंजन भट्टाचार्य रहते थे।

अटल बिहारी वाजपेयी राजनीती में होने के साथ कवि भी थे। अटल जी ने  कविता लिखी थी - ''हिन्दू तन-मन हिन्दू जीवन, रग-रग हिन्दू मेरा परिचय"

अटल बिहारी वाजपेयी जी ने बस सेवा का उद्घाटन करते हुए सदा-ए-सरहद नाम से दिल्ली से लाहौर तक सेवा शुरू की थी 

Kargil yudh

 पाकिस्तानी सेना व उग्रवादियों ने कारगिल क्षेत्र में घुसपैठ करके  कई पहाड़ी चोटियों पर कब्जा कर लिया था । अटल सरकार ने धैर्यपूर्वक ठोस कार्यवाही करके भारतीय क्षेत्र को मुक्त कराया था  

Atal bihari vajpayee puraskar

अटल जी को कई पुरस्कार से सम्मानित किया जा चूका है जैसे पद्म विभूषण, लोकमान्य तिलक पुरस्कार, श्रेष्ठ सासंद पुरस्कार, भारत रत्न पंडित गोविंद वल्लभ पंत पुरस्कार, भारतरत्न से सम्मानित


Atal bihari Vajpayee Dealth 

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का  एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया था । वह 93 साल के थे। वाजपेयी ने 16 अगस्त 2018 को शाम 05.05 बजे अंतिम सांस ली। पिछले 36 घंटों में उनकी तबीयत काफी खराब हो गई थी।वाजपेयी को यूरिन इन्फेक्शन और किडनी संबंधी परेशानी के चलते 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था। 


Wrapping Up


हमे उम्मीद है आपको essay on atal bihari vajpayee in hindi पसंद आया होगा। हमारे आर्टिकल को पढने के लिए आपका धन्यवाद 



Also read




Post a Comment

0 Comments